Shop No.20, Aurobindo Palace Market, Near Church 110016 New Delhi IN
Midland Book Shop
Shop No.20, Aurobindo Palace Market, Near Church New Delhi, IN
+919818282497 https://cdn1.storehippo.com/s/607fe93d7eafcac1f2c73ea4/60a9fa61cd181a1e5419de29/webp/midlandnew-480x480.png" admin@midlandbookshop.com
9789390924905 611e4c14333d323c9cdc80fd The Forty Rules of Love (Hindi) https://cdn1.storehippo.com/s/607fe93d7eafcac1f2c73ea4/611e4c15333d323c9cdc8179/webp/51dnykowcgs-_sx323_bo1-204-203-200_.jpg

Br>
जानिए प्रेम के चालीस नियम... एला के पास उसका पति, तीन बच्चे और एक सुंदर-सा घर है। उसके पास वह सब है जिसके चलते उसके पास आत्मविश्वास और संतोष होना स्वाभाविक है। फिर भी ऐला के दिल में एक खालीपन है - ऐसा खालीपन जो पहले प्यार से भरा हुआ था। एला जब तेरहवीं शताब्दी के br>सूफ़ी कवि रूमी और शम्स तबरेज़ और उसके द्वारा बताए जीवन और प्रेम के चालीस नियमों से जुड़ी एक किताब की पांडुलिपि पढ़ती है तो उसे बहुत आश्चर्य होता है। वह अपने परिवार को छोड़कर उस किताब के रहस्यमयी लेखक से मिलने निकल पड़ती है। यह किताब, br>सूफ़ी रहस्यवाद और कविताओं से भरी एक ऐसी यात्रा है जो एला और हमें एक अद्भुत संसार में ले जाती है जहाँ आस्था और प्रेम की खोज करते हुए दिल भर आता है...

Review

‘अपने सामयिक और चिंतनशील संदेश के कारण...यह एक वैश्विक किताब बनने योग्य है’   –   इंडीपेन्डेंट ‘ज्ञानवर्द्धक और रोचक। आस्था और प्रेम की जीत को प्रभावित करने वाली पुस्तक’ – मेट्रो ‘विविधतापूर्ण तरीके से लिखी और मनमोहक रूप से बौद्धिक’ - डेली टेलीग्राफ़

About the Author

एलिफ़ शफ़ाक, तुर्की की सबसे चर्चित लेखिका हैं। द बास्टर्ड ऑफ़ इस्तांबुल, द फ़्ली पैलेस और ऑनर समेत उनके नौ उपन्यास प्रकाशित हो चुके हैं। उनकी किताबें अब तक चालीस से अधिक भाषाओं में प्रकाशित हो चुकी हैं। वह एलिफ़, द न्यू यॉर्क टाइम्स, फ़ाइनैंशियल टाइम्स, गार्जियन, इंडीपेंडेंट, ला रिपब्लिका, न्यूज़वीक और टाइम समेत अनेक अंतरराष्ट्रीय पत्र-पत्रिकाओं में लिखती हैं। वे द लंदन स्पीकर ब्यूरो में वक्ता हैं और वैश्विक टेड स्पीकर भी हैं। उन्हें ऑरेंज पुरस्कार, बेलीज़ पुरस्कार और आईएमपीएसी डबलिन पुरस्कार के लिए नामित किया गया था और उन्हें इंडीपेंडेंट फ़ॉरेन फ़िक्शन प्राइज़ के लिए चुना जा चुका है। एलिफ़, अपने दो बच्चों के साथ लंदन में रहती हैं। उनसे www.elifshafak.com पर संपर्क किया जा सकता है।.
9789390924905
in stockINR 450
1 1
The Forty Rules of Love (Hindi)

The Forty Rules of Love (Hindi)

ISBN: 9789390924905
₹450


Available At: Hauz Khas
Details
  • ISBN: 9789390924905
  • Author: Elif Shafak and Ashutosh Garg
  • Publisher: Manjul Publishing House
  • Pages: 440
  • Format: Paperback

Book Description

Br>
जानिए प्रेम के चालीस नियम... एला के पास उसका पति, तीन बच्चे और एक सुंदर-सा घर है। उसके पास वह सब है जिसके चलते उसके पास आत्मविश्वास और संतोष होना स्वाभाविक है। फिर भी ऐला के दिल में एक खालीपन है - ऐसा खालीपन जो पहले प्यार से भरा हुआ था। एला जब तेरहवीं शताब्दी के br>सूफ़ी कवि रूमी और शम्स तबरेज़ और उसके द्वारा बताए जीवन और प्रेम के चालीस नियमों से जुड़ी एक किताब की पांडुलिपि पढ़ती है तो उसे बहुत आश्चर्य होता है। वह अपने परिवार को छोड़कर उस किताब के रहस्यमयी लेखक से मिलने निकल पड़ती है। यह किताब, br>सूफ़ी रहस्यवाद और कविताओं से भरी एक ऐसी यात्रा है जो एला और हमें एक अद्भुत संसार में ले जाती है जहाँ आस्था और प्रेम की खोज करते हुए दिल भर आता है...

Review

‘अपने सामयिक और चिंतनशील संदेश के कारण...यह एक वैश्विक किताब बनने योग्य है’   –   इंडीपेन्डेंट ‘ज्ञानवर्द्धक और रोचक। आस्था और प्रेम की जीत को प्रभावित करने वाली पुस्तक’ – मेट्रो ‘विविधतापूर्ण तरीके से लिखी और मनमोहक रूप से बौद्धिक’ - डेली टेलीग्राफ़

About the Author

एलिफ़ शफ़ाक, तुर्की की सबसे चर्चित लेखिका हैं। द बास्टर्ड ऑफ़ इस्तांबुल, द फ़्ली पैलेस और ऑनर समेत उनके नौ उपन्यास प्रकाशित हो चुके हैं। उनकी किताबें अब तक चालीस से अधिक भाषाओं में प्रकाशित हो चुकी हैं। वह एलिफ़, द न्यू यॉर्क टाइम्स, फ़ाइनैंशियल टाइम्स, गार्जियन, इंडीपेंडेंट, ला रिपब्लिका, न्यूज़वीक और टाइम समेत अनेक अंतरराष्ट्रीय पत्र-पत्रिकाओं में लिखती हैं। वे द लंदन स्पीकर ब्यूरो में वक्ता हैं और वैश्विक टेड स्पीकर भी हैं। उन्हें ऑरेंज पुरस्कार, बेलीज़ पुरस्कार और आईएमपीएसी डबलिन पुरस्कार के लिए नामित किया गया था और उन्हें इंडीपेंडेंट फ़ॉरेन फ़िक्शन प्राइज़ के लिए चुना जा चुका है। एलिफ़, अपने दो बच्चों के साथ लंदन में रहती हैं। उनसे www.elifshafak.com पर संपर्क किया जा सकता है।.

Reviews By Goodreads

User reviews

  0/5