Shop No.20, Aurobindo Palace Market, Near Church 110016 New Delhi IN
Midland Book Shop
Shop No.20, Aurobindo Palace Market, Near Church New Delhi, IN
+919818282497 //d2pyicwmjx3wii.cloudfront.net/s/607fe93d7eafcac1f2c73ea4/60a9fa61cd181a1e5419de29/webp/midlandnew-480x480.png" admin@midlandbookshop.com
9780143425441 60ad024da4cf971279fa1494 Aisa Kyun hai Salman? //d2pyicwmjx3wii.cloudfront.net/s/607fe93d7eafcac1f2c73ea4/60ad0250a4cf971279fa152a/webp/9780143425441-us.jpg 27 दिसंबर 2015 को सलमान ख़ान पचास साल के हो रहे हैं। 1988 में अपनी पहली किर्लम से लेकर अब तक उन्होंने करोडों लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई है और उनकी ललॉकबस्टर किर्लमों में मैंने प्यार ककया और हम आपके हैं कौन...! से लेकर हाल में आई िबंग, एक था टाइगर, ककक और बजरंगी भाईजान तक शालमल हैं। बॉलीवुड के िबंग सुपरस्टार सलमान खान जजतना अपनी किर्लमों के ललए खबरों में आते हैं उससे कहीं ज्यािा वो अपनी ननजी जजंिगी को लेकर सुणखियों में रहते हैं। किर चाहे बात उनके प्रेम प्रसंग की हो, दहरर् लशकार मामले की या किर उन पर चल रहे दहट एंड रन केस की। बेकाबू गुस्से और सहयोगी कलाकारों के साथ बुरे बतािव को लेकर भी वे चचाि में आते है। लेककन उनका एक िूसरा रूप भी है - बीइंग ह्यूमन नाम का एनजीओ चलाते हैं, खूब चैररटी करते हैं और किर्लमों से होने वाली अपनी कमाई का एक बडा दहस्सा जरुरतमंिों की मिि में खचि कर िेते हैं और इसीललए उन्हें एक दिलिार सुपरस्टार भी माना जाता है। 9780143425441
out of stock INR 203
1 1

Aisa Kyun hai Salman?

ISBN: 9780143425441
₹203
₹254   (20% OFF)

Available At Stores


Details
  • ISBN: 9780143425441
  • Author: Jasim Khan
  • Publisher: Penguin
  • Pages: 272
  • Format: Paperback

Book Description

27 दिसंबर 2015 को सलमान ख़ान पचास साल के हो रहे हैं। 1988 में अपनी पहली किर्लम से लेकर अब तक उन्होंने करोडों लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई है और उनकी ललॉकबस्टर किर्लमों में मैंने प्यार ककया और हम आपके हैं कौन...! से लेकर हाल में आई िबंग, एक था टाइगर, ककक और बजरंगी भाईजान तक शालमल हैं। बॉलीवुड के िबंग सुपरस्टार सलमान खान जजतना अपनी किर्लमों के ललए खबरों में आते हैं उससे कहीं ज्यािा वो अपनी ननजी जजंिगी को लेकर सुणखियों में रहते हैं। किर चाहे बात उनके प्रेम प्रसंग की हो, दहरर् लशकार मामले की या किर उन पर चल रहे दहट एंड रन केस की। बेकाबू गुस्से और सहयोगी कलाकारों के साथ बुरे बतािव को लेकर भी वे चचाि में आते है। लेककन उनका एक िूसरा रूप भी है - बीइंग ह्यूमन नाम का एनजीओ चलाते हैं, खूब चैररटी करते हैं और किर्लमों से होने वाली अपनी कमाई का एक बडा दहस्सा जरुरतमंिों की मिि में खचि कर िेते हैं और इसीललए उन्हें एक दिलिार सुपरस्टार भी माना जाता है।

Reviews By Goodreads

User reviews

  0/5